Uncategorizedअपराधउत्तराखंड

चोरों ने पुलिस को दी खुली चुनौती..

लालकुआं से गौरव गुप्ता : नगर एवं इसके आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानों व मंदिरों में लगातार चोरी की घटनाएं रूकने का नाम नही ले रही है एक के बाद एक चोरी की घटनाएं से लोग काफी भयभीत है खुफिया तरीके से बार बार चोरी की घटनाओं ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए है। अबतक एक भी मामले का खुलासा पुलिस नही कर पायी है। हर बार पुलिस चोरों तक पहुंचने का आश्वासन तो देती है परन्तु कुछ ही दिन बीतने के बाद चोरी की नयी घटना सामने आ जा रही है।

बताते चले कि बीते दिनों लालकुआं नगर के ट्रांसपोर्ट नगर स्थित गुरूद्वारे के समीप तिवारी किनारा की दुकान में चोरों ने आसानी से हजारों रूपये का सामान तथा दुकान में रखी नगदी को चोरी कर चंपत हो गए थे। पुलिस घटना की तफ्तीश कर रही थी कि चौरों ने हल्दुचौड़ स्थित ग्राम पंचायत दुम्का बंगर बच्चीधर्मा के दोलिया डीक्लास में सप्ताह भर के भीतर दो अलग अलग मंदिरों में चोरों द्वारा सेंधमारी कर हजारों रूपये की नगदी की चोरी की घटना को अंजाम देकर मानों पुलिस को खुली चुनौती दे दी हो।
वही मंदिर के अलावा बिन्दुखत्ता बाजपुर चौराहे स्थित एक किनारा को भी चोरों ने निशाना बनाया है जहां से सामान और कैश की चोरी हुई है इधर चोरी के आकड़ों पर गौर करें तो पिछले साल भी नगर की एक मोबाइल दुकान पर चोरों ने हजारों रूपये के मोबाइल एंव किमती सामान की चोरी कर ली थी। इसके साथ ही पिछले साल ही टेम्पो स्टैंड के पास चाय व कबाड़ की दुकान एवं उसके समीप टायर की दुकान में चोरों ने हाथ साफ करते हुए दुकान में रखा सामान
ले उड़े।

वही इसी बर्ष जनवरी माह में ट्रांसपोर्ट स्थित एक स्पेयर पार्टस की दुकान में चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया। इसके अलावा बीते बर्ष नगर पंचायत द्वारा नगर में लगाई गई कई सोलर बैटरी को भी चोरों ने चुरा लिया। इन घटनाओं में से पुलिस ने एक दो चोरों को गिरफ्तार करने के बाद दावा किया था कि अब चोरी की घटनाओं पर रोक लगेगी।

इसके बाद भी इन दिनों क्षेत्र में चोरी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। चोरों को पकड़ने में पुलिस प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है। जिसके कारण लोगों में असुरक्षा का भाव बढ़ता जा रहा है। इधर स्थानीय लोगों ने पुलिस प्रशासन से जल्द से जल्द चोरों को पकड़ने की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button