उत्तराखंडस्वास्थ्य

लालकुआं : नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन

लालकुआं से संवाददाता गौरव गुप्ता : लालकुआं नगर के सुभाष नगर वार्ड नम्बर पांच स्थित होली ट्रिनिटी सीनियर पब्लिक स्कूल में छात्रों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया जिसमें बच्चों की आंखों का परीक्षण किया गया साथ ही उन्हें परामर्श भी दिया। इसमें नेत्र रोग विशेषज्ञ डाॅक्टर उदित सिंह व उनकी टीम द्वारा छात्रों की आखों की जांच की गई।

ब्रेकिंग : पंजाब के राज्यपाल ने दिया स्तीफा

शिविर का आयोजन इंटरेक्ट क्लब ऑफ होली ट्रिनिटी सिनियर स्कूल और जीवन दान आई हाॅस्पिटल मोतीनगर के सयुंक्त तत्वाधान में किया गया।उक्त शिविर में लगभग 300 से अधिक बच्चों की आंखों की जांच की गई। वही बच्चों का नेत्र परीक्षण करने आई टीम को स्कूल की प्रधानाचार्य रितू चौधरी द्वारा प्रतीक चिह्न एवं पुष्प देकर सम्मानित किया।

ब्रेकिंग : केंद्र से लेकर CM के सबसे विश्वासनीय अधिकारी! जानें कौन हैं ये IFS अधिकारी?

बताते चले कि आज नगर के होली ट्रिनिटी सिनियर पब्लिक स्कूल के परिसर में इंटरेक्ट क्लब ऑफ होली ट्रिनिटी सिनियर स्कूल और जीवन दान आई हाॅस्पिटल मोतीनगर के सयुंक्त तत्वाधान में नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया।

ब्रेकिंग : उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी को लेकर पूर्वानुमान जारी

इस मौके पर लगभग 300 से अधिक बच्चों की आखों की जांच की गई।इस दौरान इंटरेक्ट क्लब डिस्ट्रिक्ट 3110 की डी. आई. आर. स्वाति कापड़ी ने भी बच्चों को आखों को स्वास्थ्य रखने के लिए उपाए बताए साथ ही उन्होंने बच्चों को इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण जैसे मोबाइल,टीवी और कंप्यूटर आदि के इस्तेमाल से आंखों को होने वाले नुकसान को कम करने के लिए कई महत्वपूर्ण बातें भी बताई।

ब्रेकिंग : BJP नेता रीता बहुगुणा जोशी को छह माह की सजा

इस अवसर पर स्कूल की प्रधानाचार्य रितू चौधरी ने बताया कि छात्रों को आंखों के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से इस शिविर का आयोजन किया गया।

उन्होंने बताया कि आंखें हमारी शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है इसलिए इनकी सुरक्षा करना बहुत ही जरूरी है। जिसको लेकर आज इंटरेक्ट क्लब ऑफ ट्रिनिटी सिनियर स्कूल तथा जीवनदान अस्पताल मोतीनगर द्वारा नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया है। उन्होंने कहा कि शिविर में कक्षा 6 से लेकर 10 तक के सभी छात्र छात्राओं की आखों की जांच की और आखों की देखभाल के लिए पोष्टिक आहार लेने तथा जंक फूड न खाने की सलाह दी गई।

ब्रेकिंग : IFS अधिकारी पर केस दर्ज! ब्यूरोक्रेसी में हड़कंप

इधर स्कूल प्रबंधक अजय चौधरी ने कहा कि नेत्र परीक्षण शिविर की जितनी भी प्रशंसा की जाय कम है क्योंकि दृष्टि बाधित छात्र-छात्राओं को नेत्र ज्योति प्रदान करना उनके जीवन में रोशनी डालने जैसा है जो बच्चे पढ़ने लिखने में अपने आप को असहाय महसूस कर रहे है उनके आखों के जांच के बाद दवाई एवं चश्मा उपलब्ध हो जाने से वे दुगने उत्साह से पढ़ाई में रूचि लेंगे एवं मन लगाकर पढ़ाई करेंगे। उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर आगे भी इसी प्रकार के शिविरों का आयोजन स्कूल प्रबंधक द्वारा होता रहेगा।

वही आयोजित शिविर में उप प्रधानाचार्य प्रतिमा जैन, क्लब इंचार्ज गंगा राणा, अध्यापिका टीना सक्सेना ने भी अपना सहयोग प्रदान किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button